Dard bhari shayari (दर्द भरी शायरी) in hindi

मुदद्तो बाद आज फिर परेशान हुआ है दिल
जाने किस हल में है मुझे छोड़ने वाला

Advertisement

मै ठहर गया वो गुज़र गयी  वो क्या गुजरी
की हमारी पूरी ज़िन्दगी ठहर गयी

काश तुम आओ और गले लगाकर कहो
मेरा भी दिल नहीं लगता तुम्हारे बिना

कभी जिन्होंने वादा किया आपको कभी ना रोने देंगे,
आंसू भरी आंख लेकर आपको कभी सोने देंगे,
आखिर वहीं हमारी जिंदगी का आंसू बन गए,
जो कहते थे आपको कभी खोने ना देंगे।

Advertisement

मेरी किस्मत देखकर प्यार भी शर्मिंदा है,
की वो इंसान जो सब ख़त्म कर गया
फिर भी कैसे जिन्दा है…

अभी टाइम ख़राब हैं
बस इसलिए मैं चुप हु
एक न एक दिन सबका हिसाब होगा
जिस दिन ये दिमाग ख़राब होगा

तुम आज भी याद आते हों
आखो में आसू भर लाते हो
जब आना ही नहीं था ज़िन्दगी में
फिर क्यों इतना याद आती हो

Read also – Breakup shayari

Advertisement
Dard bhari shayari in hindi
Dard bhari shayari in hindi

सुना था इश्क में ज़िन्दगी सवर जाती है
अंदाज़ा न था इस कदर बदल भी जाती है 

अगर कोई पूछेगा तो कह देंगे
हा हुई थी मोहब्बत पर जिनसे हुई
वो हमारी मोहब्बत के काबिल नहीं थे

आपकी तलाश में
हमारे वजूद ही न रहा
तबाह कर गयी
मेरी हस्ती को आरजू तेरी

Advertisement

Leave a Comment