33+ Dhoka shayari | Sad Dhoka shayari | Pyar me Dhoka shayari

Advertisement
dhoka shayari with images
dhoka shayari with images

कभी दर्द तो कभी जुदाई मार गई,
कभी आपकी याद आई तो तन्हाई मार गई,
जिसको हमने बेइन्तहा इश्क किया
आखिर में मुझे उसकी वेबफाई मार गई।

dhoka shayari
dhoka shayari

आदत मेरी भूतो से डरने की डाल कर,
एक इंसान मेरी ज़िन्दगी को अँधेरा कर गया।

Advertisement
pyar me dhoka shayari hindi
pyar me dhoka shayari hindi

Read also Dukhi shayari in hindi

सच्चाई जान लो दूर होने से पहले,
कुछ मेरी सुन लो खुद सुनाने से पहले,
थोडा सोच लेना हमें भुलाने से पहले,
बहुत रोई हैं मेरी आँखें मुस्कुराने से पहले.

Advertisement

लुट गए थे हम, उनकी जरूरते पूरी करते करते
पर फिर भी उनकी ख्वाहिशे पूरी हुई नहीं
मर जाते हम और क्या करते

Advertisement
dhoka dene wali shayari
dhoka dene wali shayari

दिल और भाग्य की आपस में कभी बनती नहीं
क्यूंकि जो दिल में होता है
वो कभी भाग्य में होता ही नहीं

ये तो जानता हु
ये बुरा वक़्त भी गुजर जायेगा
पर तुम शायद
ज़िन्दगी भर मेरे यादो से न गुजरो

dhoka shayari in hindi
dhoka shayari in hindi

बहुत डरते अब इस दुनिया से
न जाने कब मेरे आसू
तेरा राज खोल दे
बस इसी ख्याल में
नज़रे छुपाये बैठे हैं

बिछड़ कर तुझसे मुझे ख़ुशी अच्छी नहीं लगती,
चेहरे पर ये बनावटी हँसी अच्छी नहीं लगती,
कभी तो अच्छी लगती थी मगर अब सोचते हैं हम,
कि मुझको क्यों मेरी ये life अच्छी नहीं लगती।

dhoka shayari
dhoka shayari

अजब मंजिल पे ठहरा हुआ है
रास्ता जिन्दगी का
सुकून ढ़ूढने चले थे, होश ही गंवा बैठे

Advertisement

किसी ने कहा प्यार में खुदा मिलता हैं
किसी में कहा प्यार में दर्द मिलता हैं
मेरा तो मानना ये हैं
प्यार में ज़िन्दगी भर, मर मर के ज़ीने का
मुकदर मिलता हैं

मत समझो हमे खिलौना
की जब मर्जी तब खेला
और छोड़ दिया
सच्ची मोहब्बत हो तुम हमारी
इसलिए अब तक मैं कुछ नहीं बोला

अच्छा हुआ ये मोहब्बत का खेल
कुछ दिन और न चला
अगर चला होता तो शायद
हम न बचे होते

तुम अब तोड़ दो हमे
तुम अब छोड़ दो हमे
नहीं हैं ताकत अब और सहने की
ये खेल कुछ दिन और चला
तो शायद हम न रहे

खो गए हो तुम
ढलते हुए सूरज की तरह
याद तो आती है तुम्हारी, बेवफा सनम
इसलिए कभी कभी मिल लेते हैं
यादो में जाकर तुमसे

Advertisement

अपना असली रंग दिखा दिया तुमने
बेवफा बनकर हमे रुला दिया तुमने
अब कोई उम्मीद नहीं ज़िन्दगी से
सबकुछ मिट्टी में मिला दिया तुमने

खूब चाहा था जिन्हें
खूब लुटा था उसने हमे
हर रोज नए बहाने होते थे उनके
इसलिए छोड़ दिया उसे हमने

देखे थे कुछ सपने
उनके साथ हसने और रोने के
आज अकेले रो रहे हैं
और वो किसी और के साथ हंस रहे हैं

जानना चाहते हो धोखा क्या होता है
तो पूछना हैं तो उनसे पूछो
जिन्हें मोहब्बत नहीं बेवफा मिली

बहुत डरते थे हम उनसे
कही उनका दिल हम दुखा न दे
पर आज भी मरते हैं हम उनपे
ये जानते हुए बहुत दिल दुखाया उन्होंने हमारा

Advertisement

ढूंढता हु अब भी तुम्हे
मैं पागलो की तरह
ये जानते हुए तुम मिल नहीं पाओगे
क्या करे आशिक जो ठहरे
बेवफाई तुमने की
और हम सच्ची मोहब्बत कर बैठे

तोड़ दो दिल
और आता क्या हैं तुम्हे
कोई जंजीर थोड़ी न हैं
जो तुमसे टूटेगी नहीं

ठुकरा दिया मैंने उसको
अब नहीं चाहता मैं उसको
बहुत प्यार करता हु उसको
इसलिए बेवफा नहीं कहता उसको

पूछ लेना कभी मौका मिले तो खुदा से
जब जब मेरी आखो ने तुम्हे देखा हैं
बस तुम्हे ही माँगा है खुदा से
तुमने मना तो बस एक बार में कर दिया
पर न जाने कितने बार तुम्हे माँगा हैं मैंने खुदा से

धोखा खाकर भी सुधरा नहीं हैं दिल
फिर दिल लगा रहा हैं
पागल हुआ जा रहा हैं
बिना कुछ जाने बिना कुछ परखे

Advertisement

पता हैं खो गया हु मैं
तुम्हारे बुने उस जाल में
जहा मुझसे सिर्फ
तुम ही दिखाई देते हो

धोखेबाज न कहेंगे हम तुम्हे
क्योकि बदनामी तो
हमारे मोहब्बत की होगी
पर इतना जरुर कहेंगे
प्यार करेंगे मगर इजहार नहीं
क्योकि जिंदगी बर्बाद
तो हमारी अपनी होगी

पहले देते हो दर्द
फिर करते हो बात प्यार की
मत आयो पास मेरे
तुमसे बू आती हैं किसी और की

आखो से आसू यु ही नहीं आते
न जाने कितनी
मुलाकातों का सैलाब हैं ये

डरता नहीं हु तुमसे
बस मरता हु तुमपे
इसलिए कुछ करता हु खुदसे

Advertisement

मुस्कुराहट नहीं धोखा है ये
हमने आजमाया भी हैं
और पछताया भी हैं

ज़िन्दगी भर साथ निभाते हम
उनके कहने पर संसार छोड़ जाते हम
सागर के बीच धोखा दिया उसने
अगर कहते तो किनारे पर ही डूब जाते हम

ऐसा नहीं है की दर्द नहीं होता
होता हैं पर दिखा नहीं सकते

बेवफा तेरा कातिल चेहरा
भूल जाने के काबिल नहीं हैं
जबरदस्त हैं तू लेकिन
दिल से लगाने के काबिल नहीं हैं

शायद मालूम नहीं तुझको
क्यों चीज़ गवा दी हैं तूने
बहुत चाहा था बेवफा तुझको
पर अब फर्क नहीं पड़ता मुझको

Advertisement

कैसे कहू धोखा दिया हैं तूने
जब तक मैंने तुझे चाहा
तक तक तू अमानत
किसी और की हो चुकी थी

अगर तुझे पहले से
किसी और से प्यार न होता
सच कह रहा हु सनम
आज ये आशिक
तेरे प्यार में पागल न होता

आज भी देखता हु
तेरे फोटो को बार बार
जानते हुए मेरा ये इंतज़ार
कभी ख़त्म न होगा
आखिर करू तो क्या करू
हार गया हु दिल को समझाकर बार बार

भुला देते अगर आप कोई ख्वाब होते
आखिर दिल तोडा क्यों
कोई तो जवाब देते

छुप छुप कर देखा हैं मैंने
उन्हें किसी और से बाते करते हुए
फिर भी नहीं आती हैं उन्हें शर्म
ज़िन्दगी भर साथ रहने का वादा करते हुए

Advertisement

मिलेंगे कभी फिर एक दिन
इतना यकीन हैं हमे
पर तब पछताओगे जरुर
क्योकि कोई और होगा
तुम्हारी जगह इतना यकीन हैं हमे

हा समझो हमे पागल
आपके प्यार में
और ये भी समझ लो
अगर छोड़ा हमे कभी तो
किसी और को हमारी जगह हम
कभी लेने नहीं देंगे

न जाने और कितना तडपाओगे
कभी हमसे मिलोगे भी
क्या बस इतना बताओगे

उनकी एक झूठी मुस्कुराहट पर
हम दिल गवा बैठे
पैसो तो गवाए ही
और तो और धोखा खा बैठे

अगर दूर होना ही था
तो बता दिया होता
बहुत दिल दुखता हैं काश तुमसे
थोडा कम किया प्यार होता

Advertisement

न जाने क्या गलती हुई
जो आपके होठो पर न ठहर पाए
कुछ पल हम, आपसे दूर क्या हुए
आपके होठ हमारा नाम ही भूल गए

किसी ने पूछा
इस लिखावट के पीछे राज क्या हैं
हमने भी कह दिया
किसी बेवफा का दर्द
हम कागज़ पर उतार रहे हैं

वो मेरी थी पर कभी हो न पायी
सोचा था मिलेंगे उनसे आज ख्वाबो में
पर किस्मत तो देखो
हम उस बेवफा की याद में सो न पाए

सोचा नहीं था हमने कभी
आपके चेहरे की मासुमियत
डूबा देगी हमे

सही कहा था किसी ने
हमारी किस्मत में खुशिया नहीं
जो मिला था हमे कल ही
आज वो कहते हैं हम कभी मिले ही नहीं

Advertisement

देखा है तेरी नजरो को
देखकर झुक जाते हुए
अगर चाहत थी तो कभी रुलाया न होता
हमे पास बुलाकर यु भगाया न होता

न जाने कब जाएगी तुझे चाहने की चाहत
भले ही तुम मेरी नहीं, पर जब जब देखा तुम्हे
जाग जाती हैं तुम्हे पाने की चाहत

Must Read – Dil todne wali shayari

हम हर रोज नई नई शायरियां आपके लिए यहां पर अपलोड करते रहते हैं आप हमारी वेबसाइट पर जरूर आते रहे  और अगर आपको हमारा यह शायरी का कलेक्शन अच्छा लगा हो तो हमारे इस पोस्ट को एक बार शेयर जरूर करें

Advertisement

Leave a Comment