Best 100+ lips shayari in hindi

 

lips shayari – प्यार की बात हो और होठ न आये ऐसा तो हो ही नहीं सकते इसलिए आज मै आपके लिए lips shayari लाया हु  हमेशा उनकी आखे और होठ हमे सबसे जादा पसंद आते है और हमे उनकी तारीफ हमेशा करनी चाहिए क्योकि लडकिया हमेशा तारीफ को बहुत जी जादा पसंद करती है

Shayari on lips

shayari on lips in hindi
shayari on lips in hindi

वो पिला कर जाम लबों से अपनी मोहब्बत का
अब कहते हैं नशे की आदत अच्छी नहीं होती

 

बहुत शोक है न तुम्हे मुझे मार डालने का
लगा कर ज़हर होठो पे मेरी बाँहों में आ जाओ

 

रात को मैंने इस कदर आपकी फोटो को चूमा
की सुबह तक निकलता रहा मेरी होठो से खून

red lips shayari in hindi
red lips shayari in hindi

आपके होठो को देखकर मन में एक बात आती है
वो इंसान भी कितना नसीबो वाला होगा
जो आपके होठो से इश्क का जाम पिएगा

Read also खुबसूरत शायरी 

होंठो से अपनी, आपके होठो को और भी गिला कर दू
आपके होठो को मै और भी रसीला कर दू

 

आप इस कदर प्यार करे की प्यार की इन्तहा हो जाये
तेरे होंठो को छु कर तुझे और भी नशीला कर दू

lips par shayari

तेरी होठो पर सदा खिलता गुलाब रहे
खुदा न करे आप कभी भी उदास रहे
हम तुम्हारे पास चाहे रहे या ना रहे
आप जिन्हें चाहे वो सदा आपके पास रहे

Read Also Good night shayari for gf

आओ अपने होठो को इस तरह से मिला ले
की प्यार की हर ख्वाहिश हमेशा के लिए मुकम्मल हो जाये

 

तेरे होठों को छूने की एहसास से
मेरे होठो की प्यास बढ़ जाती है

 

बहुत से रंग बिरंगे फूल देखे
पर कभी तेरे होठो सा ख़ूबसूरत न देखा

Red lips shayari in hindi

lips ki tareef shayari
lips ki tareef shayari

जब भी उन्हें होठो से होठो को चूमने की तलब होती है
वो दोतो से अपने होठो को दबाने लगती है

 

हमें जब भी प्यास लगती है
हमें तो बस तुम्हारे होठो की ही आस लगती है

 

आप हर रोज अपने होठो को ऐसे छुपाते हो
जैसे हम गुस्ताख नजरो से ही आपके होठो को चूम लेंगे

lips ki tareef shayari

हम उनके एक सवाल का जवाब न दे पाए
की जब आप होठ दबाव को लुफ्त क्यों
और जब हम दबाये को दर्द क्यों

 

आखो की गहराई को आप कभी समझ नहीं सकते
और हम होठो से कुछ कह नहीं सकते

Read also Good morning shayari for gf

तुम मुझे कभी दिल से कभी आखो से पुकारो
ये होठो की तकलीफ तो ज़माने के लिए होता है

 

अगर इजाजत हो
आज बारिस की बुँदे जो आपके होठो पे गिरे है
उन बूंदों को हम होठो से उठाना है

 

होठो से हम इजहार कर नहीं सकते
इसलिए सोचते है शायद नजरो से वो बात हो जाये

 

सबको पसंद थी आखे उनकी हमको पसंद थे होठ
पर खुदा ने उन्हें हमारी किस्मत में नहीं लिखे वो होठ

 

वो आये और लिपट जाये मुझसे
उफ़ ये मेरे महंगे महंगे खवाब

 

जो आपके गुलाबी होठ मेरे होठो को छू जायें,
मेरी रूह का मिलन आपकी रूह से हो जाये,

 

सिर्फ उनके होठ कागज़ पर बना देता हु मै
वो खुद बना लेती हिया होठो पर हंसी अपनी जगह
यु तो पानी से कर गए है तोबा
पर आपके होठो को देखकर नियत बदल गयी

 

आप पास हो तो जिंदगी में क्या गम है
अब शराब की क्या जरुरत
शराब से जादा नशा तो आपके होठो में है

 

मत डाला करो हमारी चाय में अब चीनी
बस एक kiss दे दिया करो
चाय की हर एक चुस्की के साथ

 

हमें पता नहीं था आपके होठो में इतना नशा होगा
kambakt कभी जिंदगी में शराब को हाथ न लगाई होती

 

धरती की प्यास
और लबो की प्यास
हमेसा बुछ्ती रहनी चाहिए

लोग कहते है तुम कभी कोई नशा क्यों नहीं करते
हम उन्हें कैसे बताये हम तो
आपके होठो के नशा का दीदार हर रोज करते है
जो किसी अंग्रेजी शराब से कम नहीं

Leave a Comment