Meri muskurahat shayari

हम ना गैर हैं ना पराए हैं,
आप और हम एक मोहब्ब्त के साए हैं,
जब भी दिल चाहे आजमा लेना
हम तो आपकी मुस्कुराहट में समाए हैं

Best love shayari

Hum Na Gair Hain Na Paray Hain
Aap Or Hum Ek Mohabbat Ke Say Hain
Jab Bhi Dil Chahe Aajma Lena
Hum To Aapki Muskurhat Me Samay Hain

Read also – khubsurat shayari

Leave a Comment