Tumhari parchai hamare dil me hain

तुम्हारी परछाई हमारे दिल में है,
तुम्हारी यादें हमारी आँखों में हैं,
तुम्हे हम भुलाएं भी कैसे,
तुम्हारी मोहब्बत हमारी सांसो में हैं।

Read also – Nafrat shayari

Leave a Comment