School life shayari in hindi

school life shayari – स्कूल हमारी जिंदगी का एक ऐसा समय होता है जब हम अपनी जिंदगी में सबसे जादा सीखते है जो हमारी जिंदगी में बहुत ही काम आती है

अगर आप स्कूल में है तो आप बड़े ही lucky है क्योकि जो मजा स्कूल लाइफ में है  शायद वो मजा हमें जिंदगी में कभी मिले ही नहीं क्योकि college में बस प्यार और बेवफाई ही चलती है

स्कूल में हमें कितना मजा आता था जब हम हर रोज अपने कंधो पर बैग टांगकर सुबह सुबह चल दिया करते थे पर हमें अपने टीचर से बहुत ही दर लगता था क्योकि वो हमें हर छोटी छोटी वजह पर पिट देते थे और हर रोज स्कूल की  घंटियों के बजने का इंतजार किया करते थे की कब lunch होगा या और कब छुट्टी होगी

लेकिन जो भी था बहुत मजा आता था जब हम अपने दोस्तों का lunch छुपकर खा लेते थे या जब भी हम काम करके नहीं लाते थे तो हमेशा झूठ बोलकर बचने की कोशिश करते थे

इसलिए स्कूल से जुडी कुछ ऐसी ही शायरी आपके लिए लाया हु जो आपको बहुत ही  पसंद आने वाली है जो आपको आपका बचपन याद दिला देगा और आप अपने हर उस टीचर और दोस्त को याद करोगे जो आपको बुरे या प्यार लगते थे

school shayari

वो जो रस्ते जाते है स्कूल की तरफ
आज हम उन रास्तो से जुदा हो गए
पर जब भी गुजरते है स्कूल के पास से
लगता है जैसे कुछ दिन ही हुए है छोड़े हुए

——————————-

क्लास में मस्ती थी
हमारी भी कुछ हस्ती थी
टीचर का सहारा था
दिल यह आवारा था 

——————————-

पढना मुस्किल नहीं है
बल्कि पढ़ते वक़्त जो नींद आती है
उसे कण्ट्रोल करना मुश्किल है 

——————————-

आज तक मन में एक सवाल है
मिलेंगे स्कूल के टीचर तो पूछूंगा जरूर
ये थीटा कोस और टेन थीटा का
उपयोग आखिर करना कहा है 

 

Read also Pubg shayari

——————————-

स्कूल में बड़ा मजा आता था जब
टीचर absent होता था
जब टीचर का पढ़ाने का मूड न होना
टेस्ट का कैंसिल होना
नक़ल मारकल अच्छे no लाना 

——————————-

खबर न होती कुछ सुबह की
ना कोई शाम का ठिकाना था
थक हार के आना स्कूल से 
फिर भी खेलने तो जरुर जाना था 

school life shayari
school life shayari | School life

छोड़ दिया है इश्क का स्कूल हमने
क्योकि अब हमसे
मोहब्बत की फीस अदा नहीं होती

——————————-

काश वो स्कूल का बैग दुबारा थामने को मिल जाये
जिंदगी का ये बोझ उठाना बड़ा मुश्किल है

——————————- 

आंखो में सुनेहरा सपना
दिल में बेशुमार प्यार
निकल पड़े जग जीतने
लेके माँ का नाम 

——————————-

स्कूल में पहले chapter पढाया जाता था
फिर टेस्ट लिया जाता था 

——————————-

यहाँ तो असल जिंदगी में सब उल्टा है
जिंदगी पहले ही test ले लेती है 

——————————-

फिर हमें उससे कुछ सिखने को मिलता है 

काश फिर वो तक़दीर मिल  जाये
जीवन  के वो हसीं पल मिल जाये
चल फिर बैठे क्लास के लास्ट बेंच पे
शायद वापस वो पुराने दोस्त मिल जाये 

——————————-


क्या ख़ुशी जी स्कूल में
हर रोज दोस्तों के संग खेलता था
कहा फस गया मै college में
यहाँ तो सिर्फ दिलो से खेला जाता है 

——————————-

क्या दिन थे वो
जब हम मैडम से बोलते थे
मैडम मैंने homework तो  कर लिया था
लेकिन कॉपी घर पे भूल गया हु 

——————————-

काश exam भी मोबाइल पे होने लग जाये
क्युकी writing से जादा तो टाइपिंग स्पीड है 

——————————-

रोने की वजह न थी
न हसने का बहाना था
क्यों हो गए हम इतने बड़े
इससे अच्छा तो वो बचपन का जमाना था 

——————————-

स्कूल के वो आखिरी दिन जब सभी
अच्छे अच्छे कपडे पहनकर आते थे
उन्हें देख कर एक ही सवाल आता था
स्कूल dress में तो ये इतने सुन्दर नहीं लगते 

——————————-

कभी कभी स्कूल में ऐसा भी होता था
जब गलती से हम दुसरो की क्लास में
 चले जाते थे
तो सभी ऐसे देखते थे जैसे कोई एलियन
उनकी क्लास में आ गया है 

——————————-

school me bada maja aata tha jab
teacher absent hote the
jab teacher ka padhana ka mood na hona
test ka cancel hona
nakal markal ache no lana

——————————-

khabar na hoti kuch subah ki
na koi shaam ka thikana tha
thak haar ke aana school se
phir bhi khelne to jaroor jana tha

——————————-

chod diya hai ishq ka school hamne
kyoki ab humse
mohabbat ki fees ada nhi hoti

——————————-

kash wo school ka bag
dubara thamne ko mil jaye
jindagi ka ye bojh uthana  bada mushkil hai

——————————-

school ka wo aakhri din jab sabhi
acche acche kapde pehenkar aate the
unhe  dekhkar ek hi sawal aata tha
school dress me to ye itne sundar nahi lagte

——————————-

wo jo raste jate hai school ki taraf
aaj hum un rasto se  juda ho gay
par jab bhi gujarte hai school ke pass se
lagta hai jaise kuch din  hi hue hai chode hue

——————————-

class me masti thi
hamari bhi kuch hasti th
teacher ka sahara tha
dil ye awara tha

——————————-

padhna muskil nahi hai
balki padhte waqt jo nind aati hai
use control karna mushkil  hai

——————————-

aaj tak man me ek sawal hai
milenge teacher to jarur puchunga
ye sin cos tan ka
upyog aakhir kab karna hai

——————————-

kabhi kabhi school me aisa bhi hota tha
jab galti se hum dusaro ki class  me
chale jate the
to sabhi aise dekhte the jaise koi alian
unki  class me aa gaya hai

Leave a Comment